छाया-ग्रहों का प्रभाव

*हमारी कुंडली और छाया ग्रहों का प्रभाव*

राहु वह लालच है जिसमें व्यक्ति को कुछ अच्छा-बुरा
दिखाई नहीं देता केवल अपना स्वार्थ ही दिखाई
देता है। मांस-मदिरा का सेवन, बुरी लत, चालाकी
और क्रूरता, अचानक आने वाला गुस्सा, पीठ पीछे
की वो बुराई जो काम करे यह सब राहु की विशेषताएं
हैं।
प्रेम प्रसंग के लिए कुछ लोगों की मान्यता है कि शुक्र
का स्वराशी में होना, बारहवें भाव का बलवान
होना या शुक्र से संबंध होना या पंचम भाव का
बलवान होना ही काफी है। लेकिन सच यह है कि
राहु भी इसके लिए जिम्मेदार होता है। राहु प्रेम-
संबंधों के पनपने के लिए उत्तरदायी होता है।प्रेम संबंध
भी ऐसे जिनमें दोनों समाज से नजरें बचाकर एक-दूसरे
से मिलते हैं।
छुपा कर रखने वाले प्यार के लिए राहु
उत्तरदायी होता है। राहु रहस्य का कारक ग्रह है और
तमाम रहस्य की परतें राहु की ही देन होती हैं। राहु
झूठ का वह रूप है जो झूठ होते हुए भी सच जैसे प्रतीत
होता है।जो प्रेम संबंध असत्य की डोर से बंधे होते हैं
या जो संबंध दिखावे के लिए होते हैं वे राहु के ही
बनावटी सत्य हैं।
राहु व्यक्ति को झूठ बोलना
सिखाता है। बातें छिपाना, बात बदलना, किसी के
विश्वास को सफलतापूर्वक जीतने की कला राहु के
अलावा कोई और ग्रह नहीं दे सकता। असलियत को
सामने न आने देना ही राहु की खासियत है और हर
तरह के झूठ का पर्दाफाश करना केतु का धर्म है।
केतु संबंधों में दरार डालता है क्योंकि केतु ही दरार है।
घर की दीवार में यदि दरार आ जाए तो समझ लीजिए
की यह केतु का बुरा प्रभाव है और यदि संबंधों में भी
दरार आ जाए घर का बंटवारा हो जाए या रिश्तों
की परिभाषा बदल जाए तो यह केतु का काम समझें।
दुविधा में राहु का हाथ होता है। किसी भी प्रकार
की अप्रत्याशित घटना का जिम्मेदार राहु ही
होता है। आप खुद नहीं जानते की आप आने वाले कुछ
घंटों में क्या करने वाले हैं या कहां जाने वाले हैं तो
इसमें निस्संदेह राहु का आपसे कुछ नाता है। या तो
राहु लग्नेश के साथ है या लग्न में ही राहु है।* यदि आप
जानते हैं की आप गलत हैं परन्तु आपको लगता है कि
आप सही कर रहे हैं तो यह धारणा आपको देने वाला
राहु ही है।
किसी को धोखा देने की प्रवृत्ति राहु
पैदा करता है यदि आप पकड़े जाए तो इसमें भी आपके
राहु का दोष है क्योंकि वह आपकी कुंडली में आपके
भाग्य में निर्बल है और यह स्थिति बार-बार होगी।
इसलिए राहु का अनुसरण करना बंद करें क्योंकि यह
जब बोलता है तो कुछ और सुनाई नहीं देता।यदि राहु
आपकी कुंडली में बलवान होगा तो आपको सभी तरह
की गुप्त बातें बैठे बिठाए ही पता चल जाएंगी। यदि
आपको लगता है कि सब कुछ गुप्त है और आपसे कुछ
छुपाया जा रहा है या आपके पीठ पीछे बोलने वाले
लोग बहुत अधिक हैं तो यह भी राहु की ही करामात
है।
-*आपका व्यास जी*

मोबाइल नंबर – +919252995723

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s